US भारत से साझा नहीं करेगा मार गिराए गए एफ-16 की जानकारी

0
1129

वाशिंगटन

अमेरिका ने जम्मू-कश्मीर में सैन्य प्रतिष्ठानों पर हवाई हमला करने की पाकिस्तान की कोशिश के दौरान भारतीय वायुसेना की जवाबी कार्रवाई में मार गिराए गए एफ-16 लड़ाकू विमान की जानकारी भारत के साथ साझा करने से इनकार कर दिया है। भारत की ओर से इस हमले की सूचना देने के तुरंत बाद बता दिया गया था कि अमेरिका और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय समझौते के कारण उसके साथ लड़ाकू विमान की कोई जानकारी साझा नहीं की जा सकती। अमेरिकी अधिकारी ने इस रुख का बचाव करते हुए कहा कि भारत अमेरिका के इस फैसले को समझता है।

अगर कोई तीसरा देश भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल सी-130, सी-17 या अपाचे के बारे में जानकारी मांगेगा तो हमारा जवाब यही होगा। अमेरिकी अधिकारी ने कहा कि तब यह भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय मामला होगा। भारतीय वायुसेना ने मार्च में अमेरिका से शिकायत की थी कि पाकिस्तान ने हमारे खिलाफ हमला करने के लिए अमेरिकी एफ-16 विमान का इस्तेमाल कर बिक्री शर्तों का उल्लंघन किया है। वायुसेना ने हवा से हवा में मार करने वाली अमराम मिसाइल के टुकड़ों की तस्वीरें भी साझा की थीं। पाकिस्तान इन मिसाइलों का इस्तेमाल एफ-16 विमानों में ही करता है। इसके बाद पाकिस्तान ने कहा था कि भारत पर हमले के लिए एफ-16 विमान का इस्तेमाल नहीं किया गया। साथ ही भारतीय वायुसेना के किसी भी विमान को मार गिराने से भी इनकार कर दिया।

पाकिस्तान को बेचे गए सभी एफ-16 विमान सही सलामत हैं। भारत-पाकिस्तान के बीच 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आत्मघाती हमले के बाद तनाव बढ़ गया था। फिदायीन हमले में 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हो गए थे। इसके 13वें दिन भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के प्रशिक्षण शिविर पर हवाई कार्रवाई की थी। इसके अलगे ही दिन पाकिस्तानी वायुसेना ने भारत पर जवाबी कार्रवाई करने की कोशिश की, जिसे भारतीय वायुसेना ने पकड़ लिया। भारतीय वायुसेना ने तत्काल कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान के एक एफ-16 विमान को मार गिराया। इस दौरान भारतीय वायुसेना का मिग-21 विमान क्षतिग्रस्त हो गया और विंग कमांडर अभिनंदन पाकिस्तानी सेना की पकड़ में आ गए। पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय दबाव में 1 मार्च को अभिनंदन को भारत को सौंप दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here